फौलाद, मास्टरमाइंड और मास्टरप्लान – समीक्षा और अंदर के चित्र

फौलाद, मास्टरमाइंड और मास्टरप्लान – समीक्षा और अंदर के चित्र

सूर्यकांत एक वैज्ञानिक है जिसे आंतकियों के मंसूबो को पूरा होने से रोकने के लिए ऐसे अत्याधुनिक फौलादी कवच का आविष्कार करना पड़ता है जिसे पहन के वो बन जाता है विशालनगर का रखवाला, “फौलाद। फौलाद फेनिल कॉमिक्स के अभी तक समीक्षा किये हुए बाकी दोनों किरदार यानी बजरंगी और क्राइमफाइटर से काफी बेहतर है। अगर आप फेनिल कॉमिक्स को पढ़ना चाहते है तो आप निसंकोच फौलाद श्रृंखला पढ़ सकते है जिसका आखिरी भाग चित्रांकन के मामले में सब से बेहतर फेनिल कॉमिक है वहीँ पहले २ भागो का कुल मिलकर मूल्य केवल ६० रूपए है।

फौलाद श्रृंखला - सार फौलाद यानी सूर्यकांत एक वैज्ञानिक है जिसे आंतकियों के मंसूबो को पूरा होने से रोकने के लिए ऐसे अत्याधुनिक फौलादी कवच का आविष्कार करना पड़ता है जिसे पहन के वो बन जाता है विशालनगर का रखवाला, "फौलाद।  फौलाद श्रृंख्ला में अभी तक तीन कॉमिक्स प्रकाशित हो चुकी है जिनके नाम है; फौलाद, मास्टरमाइंड और मास्टरप्लान।  कॉमिक की कहानी फौलाद, कोबरा और उसके आतंकी संघटन के इर्द गिर्द घूमती है जिसमे कई दिलचस्प मोड़ आते है लेकिन साथ साथ कहानी खींची हुई सी भी महसूस होती है।  फौलाद की कहानी शुरू में मार्वल के आयरन मैन से...
क्राइमफाइटर, ब्लैक गोल्ड और मुखबिर – समीक्षा और अंदर के चित्र

क्राइमफाइटर, ब्लैक गोल्ड और मुखबिर – समीक्षा और अंदर के चित्र

क्राइमफाइटर उत्पति श्रृंखला में अभी तक तीन कॉमिक्स आईं है जिनके नाम है क्राइमफाइटर, ब्लैक गोल्ड और मुखबिर। कहानी का अगला भाग जिसका नाम “मैं हूँ अंगरक्षक” जल्दी ही आने वाला है जिसमे क्राइम फाइटर के जन्म और उसके आरम्भ से जुडी कहानी कहानी बताई जाएगी। क्राइमफाइटर के बारे में कम शब्दों में कहें तो ये कहानी इंस्पेक्टर सौरभ सक्सेना की है जिसने कानून के हाथ बंधे होने के कारण अप्राधिओं को सजा देने के लिए चुना है गैर कानूनी तरीका और उसके लिए इंस्पेक्टर सौरभ को बन ना पड़ेगा क्राइमफाइटर।

क्राइमफाइटर उत्पत्ति श्रृंखला – सार क्राइमफाइटर उत्पति श्रृंखला में अभी तक तीन कॉमिक्स आईं है जिनके नाम है क्राइमफाइटर, ब्लैक गोल्ड और मुखबिर।  कहानी का अगला भाग जिसका नाम "मैं हूँ अंगरक्षक" जल्दी ही आने वाला है जिसमे क्राइम फाइटर के जन्म और उसके आरम्भ से जुडी कहानी कहानी बताई जाएगी।  क्राइमफाइटर के बारे में कम शब्दों में कहें तो ये कहानी इंस्पेक्टर सौरभ सक्सेना की है जिसने कानून के हाथ बंधे होने के कारण अप्राधिओं को सजा देने के लिए चुना है गैर कानूनी तरीका और उसके लिए  इंस्पेक्टर सौरभ को बन ना पड़ेगा क्राइमफाइटर।  क्राइमफाइटर उत्पत्ति श्रृंखला की...